छोड़ दिया खत लिखना

छोड़ दिया खत लिखना डाक्टर बोलता है : खून कम है बदन में… उसे क्या मालूम दिल सिर्फ पम्प नहीं है न धड़कन, घड़ी की टिक टिक…   अरे नादान… नब्ज पकड़ के कहीं, दर्द दिखता है भला जब तक जज्ब ना पकड़ा, तुम मर्ज क्या जानो…   खून का कम होना, क्या लाजमी नहीं … Read more